Monday, October 24, 2011

तुर्की में भूकंप एक हजार लोगों के मारे जाने की आशंका




Image Loading
पूर्वी तुर्की में रविवार को 7.3 की तीव्रता वाले भूकंप के झटके आए और भूकंप विज्ञान संस्थान ने आशंका जताई है कि इससे धराशायी हुई इमारतों के मलबे में एक हजार लोग मृत पड़े हो सकते हैं। 
देश में हाल के वर्षों में यह सबसे तेज भूकंप है। भूकंप के पहले झटके बाद कुर्द बहुल वान शहर में कई झटके आए। इस्तांबुल स्थित कांदिली भूकंप विज्ञान संस्थान के प्रोफेसर मुस्तफा इर्दिक ने कहा कि भूकंप में 500 से एक हजार लोगों के मारे जाने की आशंका है।
इससे पहले आई मीडिया रिपोर्टों में भूकंप में हताहत हुए लोगों के बारे में नहीं बताया गया था लेकिन यह आशंका जताई गई थी कि धराशायी इमारतों के मलबे के नीचे बड़ी संख्या में लोग दबे हुए हो सकते हैं। अधिकारियों ने कहा कि वे नुकसान का आकलन करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।
अनातोलिया संवाद समिति ने बताया कि वान शहर में कम से कम 50 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तुर्की के प्रधानमंत्री कार्यालय में स्थित राष्ट्रीय आपदा संस्था की ओर से जारी एक बयान कहा गया है, भूकंप में गंभीर मानवीय और सामग्री नुकसान हुआ है।
वान के एक स्थानीय अधिकारी विसेज केसेर ने कहा कि कई बहुमंजिला इमारतें, होटल और शयनगह धराशायी हो गए हैं। हम धराशायी इमारतों से आवाजें सुन सकते हैं। टेलीविजन समाचार में धराशायी इमारतों और वाहनों के फुटेज के साथ ही सड़कों पर घबराए लोगों को दौड़ते दिखाया गया है।
वान के महापौर बकर काया ने प्रारंभिक आकलन में एनटीवी से कहा कि लोग घबराए हुए हैं। दूरसंचार सेवा ठप्प हो गई है और हम किसी तक भी नहीं पहुंच पा रहे हैं। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार सरकार क्षेत्र में सैटेलाइट फोन भेजेगी। इसके साथ ही सेना क्षेत्र में बचाव और खोज दल भेजेगी।
अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण ने भूकंप की तीव्रता 7.3 मापी और कहा कि इसके बाद 5.6 की तीव्रता का एक और झटका भी दर्ज किया गया। बाद का झटका दोपहर 12 बजकर 56 मिनट पर दर्ज किया गया और इसका केंद्र वान से 19 किलोमीटर दूर स्थित था।
अमेरिकी भूकंप विज्ञानियों के अनुसार भूकंप के प्रारंभिक झटके का केंद्र जमीन से 7.2 किलोमीटर नीचे स्थित था। उसके बाद आए झटके का केंद्र जमीन से 20 किलोमीटर नीचे स्थित था।

No comments:

Post a Comment

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...